Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
एक समय ब्लैक होल लोगों के लिए बहुत बड़ा रहस्य हुआ करता था। बहुत कम लोग इसके बारे में जानते थे ज्यादातर तो मूवीज और किताबों में ही इसका नाम सुना करते थे, लेकिन 11 अप्रैल को ब्लैक होल की तस्वीर जारी होने के बाद खगोल विज्ञान की दिशा में एक बहुत बड़ा मोड़ आया है। ब्लैक होल की तस्वीर ले पाना अपने आप में इसलिए भी बहुत बड़ी बात है क्योंकि ब्लैक होल अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को अवशोषित कर लेता है जिसके कारण वो अदृश्य ही रहता है और ब्रह्मांड में ऐसे अदृश्य पिंड की तस्वीर लेना कितना असंभव सा काम है इसकी तो आप बस कल्पना ही कर सकते हैं।
वैसे तो इस पूरी सफलता के पीछे का कारण 6 देशों के 200 वैज्ञानिकों की दिन-रात की मेहनत है फिर भी एक महिला के बिना ये कार्य होना मुमकिन नहीं होता, जिनका नाम केटी बोमैन है। ब्लैक होल की तस्वीर तैयार करने में कैटी का बहुत ही अहम योगदान है। आप फेसबुक पर इनकी तस्वीर देख सकते हैं जिसमें ये अपने कंप्यूटर के सामने बैठकर ब्लैक होल की तस्वीर असेंबल कर रही हैं।
ब्लैक होल की तस्वीर में बोमैन का योगदान
इनके द्वारा बनाए गए कंप्यूटर प्रोगाम की मदद के बिना ये तस्वीर लेना शायद नामुमकिन होता। इन्होने एक ऐसे एल्गोरिदम को विकसित करने में मदद की जिससे कि ये काम संभव हो सका। तीन साल पहले बोमैन ने इस एल्गोरिदम CHIRP (Continuous High-resolution Image Reconstruction using Patch priors) पर काम करना शुरू कर दिया था। आखिरकार इसी एल्गोरिदम की मदद से इस सुपरमैसिव ब्लैक होल की तस्वीर ली जा सकी।
इनकी मशीन लर्निंग एल्गोरिदम संसार भर के टेलीस्कोपों द्वारा लिए गए डेटा के बीच के गैप को भरने में मदद करता है। आपको बता दें कि जिस ब्लैक होल की तस्वीर ली गई है उसकी पृथ्वी से दूरी 540 लाख प्रकाश वर्ष है। जिसकी तस्वीर 8 टेलिस्कोपों के नेटवर्क (इवेंट हॉरिजन) की मदद से ली गई। इवेंट हॉरिजन से लिए गए मिलियन्स ऑफ गेगाबाइट के डाटा के बीच बहुत बड़ा गैप था जो कि बोमैन द्वारा बनाए गए एल्गोरिदम की मदद से भरा जा सका और ये तस्वीर सामने आ पाई।
कौन हैं केटी बोमैन
29 वर्षीय कैटी बोमन हार्वर्ड-स्मिथसोनियन सेंटर फॉर एस्ट्रोफिजिक्स में पीएचडी की स्टूडेंट और साइंटिस्ट हैं। उनकी वेबसाइट के मुताबिक वो जल्द ही कैलीफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के कंप्यूटिंग और गणितीय विज्ञान विभाग में एक सहायक प्रोफेसर के रूप में काम शुरू करेंगी। उन्होनें मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी से कंम्प्यूटर साइंस और आर्टिफिशियस इंटीलिजेंस में ग्रेजुएशन किया है।
'ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.