Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
भले ही सुप्रीम कोर्ट ने धारा 377 को गैरअपराधिक घोषित कर दिया हो, लेकिन भारत में मौजूद आज भी बहुत से लोग है जो इस सच्चाई को हजम नहीं कर पा रहे हैं। इसी कारण आज के समय में भी जब कोई अपने सामलैंगिक होने का सच दुनिया के सामने रखता है, तो ये लोग उसे हीन भावना से देखने लगते हैं। भले ही उसने इस देश और इस समाज के लिए क्या कुछ न किया हो, उसका समलैंगिक होना उसकी सारी मेहनत पर मानों पानी फेर देता है। वहीं, दुख तब होता है जब ये लोग कोई और नहीं बल्कि खुद के घरवाले होते हैं।
दरअसल, हम बात कर रहे हैं 23 वर्षीय भारत की स्टार धावक दुती चंद की, जिन्होंने 18वें एशियाई खेलों में 100 मीटर की रेस में देश के नाम 2 रजत पदक हासिल कर 20 साल के सूखे को खत्म किया था। इन दिनों वह टोक्यों ओलंपिक की तैयारी कर रही हैं, जो अगले साल होना है।
हालांकि, असल बात यह है कि हाल ही में दुती चंद ने अपने रिश्तों का खुलासा करते लेस्बियन होने की बात सार्वजनिक रूप से कबूल की थी। उन्होंने बताया कि वह किसी लड़के से नहीं बल्कि लड़की से प्यार करती हैं... जो उन्हीं के गांव की रहने वाली है। लेकिन उन्होंने अपनी महिला साथी का नाम सार्वजनिक नहीं किया।
हालांकि, अब अपने रिश्तों का खुलासा कर वह मुश्किल में फंस गई हैं। अब परिवारवालों ने इस रिश्ते को स्वीकारने से मना कर दिया है और यहां तक कि दुती का भी परिवार ने बहिष्कार कर दिया है।
क्यों सार्वजनिक की अपने लेस्बियन होने की बात?
दरअसल, दूती का आरोप है कि उनकी बड़ी बहन उन्हें ब्लैकमेल कर रही है और उनसे 25 लाख रूपये की डिमांड कर रही है। यही नहीं दुती ने अपनी बहन पर उनसे साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया, जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस में की। बहन की ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर ही वह अपनी रिलेशनशिप को दुनिया के सामने लाने पर मजबूर हो गईं है। उन्होंने कहा कि वह अपने परिवार के सामने कभी नहीं झुकेंगी।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.