Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
गर्मी का मौसम है और इसी के साथ जगह-जगह पर सूखा पड़ गया है। इस सूखे की मार देश के कई इलाकों पर पड़ी है। हाल ही में खबर आई है कि महाराष्ट्र के एक गांव में जहां पर सूखा पड़ गया है। इस जगह पर मशहूर खालसा ऐड ने मदद का हाथ आगे बड़ा दिया है। बता दें कि इस जग पर हर रोज 12 टैंकर पानी आपको देखने को मिलेगा।
<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en-gb"><p lang="en" dir="ltr">Maharashtra Drought: <br><br>Our <a href="https://twitter.com/khalsaaid_india?ref_src=twsrc%5Etfw">@khalsaaid_india</a> team is providing water to the people of <a href="https://twitter.com/hashtag/Maharashtra?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#Maharashtra</a> (India ). The drought has hit many areas, our teams are stepping up the water supply. <a href="https://twitter.com/CMOMaharashtra?ref_src=twsrc%5Etfw">@CMOMaharashtra</a> <a href="https://twitter.com/thetribunechd?ref_src=twsrc%5Etfw">@thetribunechd</a> <a href="https://twitter.com/IndianExpress?ref_src=twsrc%5Etfw">@IndianExpress</a> <a href="https://t.co/itOJejdFVJ">pic.twitter.com/itOJejdFVJ</a></p>— Khalsa Aid (@Khalsa_Aid) <a href="https://twitter.com/Khalsa_Aid/status/1130473765421420544?ref_src=twsrc%5Etfw">20 May 2019</a></blockquote><script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>
रिपोर्ट्स की माने तो महाराष्ट्र में इस साल बहुत भयंकर सूखा पड़ा है। इसके मुताबिक इस साल पानी 19% नीचे चला गया है। इस साल सूखे की मार 6 साल से ज्यादा है। खालसा एड की टीम नाशिक जाकर 12 टैंकर अब तक देकर आ चुकी है। इस जगह पर 10,000 लोग सूखे से ग्रस्त हैं। रोज 60,000 से 80,000 लीटर पानी लोगों को पीने और रहने के लिए मिल रहा है। इसी के साथ गांव के कुएं की भी साफ सफाई चल रही है।
<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en-gb"><p lang="en" dir="ltr">Maharashtra Drought: <br><br>Our <a href="https://twitter.com/khalsaaid_india?ref_src=twsrc%5Etfw">@khalsaaid_india</a> team continues to provide water to those affected by the severe drought in the Indian state of <a href="https://twitter.com/hashtag/Maharashtra?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#Maharashtra</a> <a href="https://twitter.com/CMOMaharashtra?ref_src=twsrc%5Etfw">@CMOMaharashtra</a> <a href="https://t.co/W2sUBX0CyI">pic.twitter.com/W2sUBX0CyI</a></p>— Khalsa Aid (@Khalsa_Aid) <a href="https://twitter.com/Khalsa_Aid/status/1131952318151364610?ref_src=twsrc%5Etfw">24 May 2019</a></blockquote><script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>
कुएं को साफ करने के लिए इसमें कई तरह की दवएं डाली जा रही है। देखने वाली बात तो ये है कि दुनिया में किसी भी जगह पर परेशानी या प्राकृतिक आपदा आए सबसे पहले खालसा ऐड वाले लोग पहुंच जाते हैं। हाल ही में ओड़िशा में आए तुफान के वक्त भी लोगों के लिए मदद की थी और फ्री में खाना खिलाया था। इसी के साथ केरल में आई बाढ़ में भी फसे हुए लोगों की मदद की थी।
खालसा ऐड की बात करें तो ये एक यूके स्थित नोन-प्रोफिट एनजीओ है। जो दुनिया में हर जगह पर मदद पहुंच सकता है।
Anida Saifi
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से...
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.