Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
आज की लाइफस्टाइल में अगर कोई बीमारी सबसे तेजी से बढ़ रही है तो वो है मोटापा। आज हर दूसरा आदमी खान पान और गलत दिनचर्या से इससे पीड़ित है। इसे न सिर्फ मोटापा दूर होता है बल्कि पाचन क्रिया भी ठीक हो जाती है। यह आसन शरीर की sentral narv पर काम करता है और soory chakr को जागृत करता है।
नौकासन करने का तरीका...
पहले dandaasan की अवस्था में बैठ जाएं। फिर पैरों को फैला लें। कमर से ऊपर का हिस्सा एक दम सीधा और हाथों को कमर के पीछे जमीन पर टिका दें। पीठ को पीछे की ओर झुकाएं। हाथों की kohaniyon को मोड़ लें और पैरों को भी घुटने से मोड़ लें। सिर्फ कूल्हे और हाथ-पैर के पंजे जमीन से छूएं।
अब pair को हवा में ऊपर की ओर उठाएं और घुटने एक दम सीधे हों। वहीं शरीर पीछे की ओर झुका रहे। हाथों को घुटनों की सीध में फैला लें। फिर उसमें पीठ को पीछे जमीन पर टिका दें। अंग्रेजी के Alfabet v के आकार में शरीर को ले आएं।
आयंगर पद्धति से
इसमें कंधे के नीचे एक बेल्ट बांधें और उस Belt को पैर के पंजे में फंसा लें। बेल्ट इतनी बड़ी हो कि पैर एक दम सीधे रहें। अब हाथों को जांघों पर रख लें। पैरों के नीचे एक Stool रख लें और घुटने के नीचे के हिस्से को Stool के किनारे का सहारा दे दें लेकिन पैर ऊपर की ओर ही फैले रहें। अब दोनों हाथ से Stool पकड़ लें।
कूल्हे के नीचे एक मोटा तकिया रख लें। अब पैरों को सीधे हवा में उठा लें और हाथों को peeth के पीछे जमीन पर टिका दें। इससे फोर्स तकिए पर रहेगा। इस आसन से पाचन अच्छा होता है। इससे peeth भी बाहर नहीं निकलता। ये आसन बैलेंसिंग पर आधारित है इसलिए इससे एकाग्रता बढ़ती है।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.