Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
आमतौर पर ये माना जाता है कि प्यार और दूसरी भावनाएं सिर्फ आपको मानसिक रूप से प्रभावित करती हैं, लेकिन क्या आपको पता है इसका असर आपके शरीर पर भी उतना ही पड़ता है, जितना किसी दूसरी बाहरी चीजों का। ऐसे में रिलेशनशिप में होने वाले झगड़ों और ब्रेकअप के चलते भी आपके बॉडी पर कई तरह के नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। जी हां, सुनने में आपको थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन ये सच है और आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं कि ब्रेकअप के कारण आपकी बॉडी पर किस किस तरह के प्रभाव पड़ सकते हैं।
सीने में तेज दर्द
जी हां, ये तो ब्रेकअप के चलते बॉडी पर पड़ने वाला सबसे बड़ा साइड इफेक्ट है। अक्सर ऐसा देखा गया है कि जब लोग अपने रिलेशनशिप के कारण दुखी होते हैं तो उन्हे सीने में तेज दर्द महूसस होता है।
सिर, गर्दन और मांसपेशियों में दर्द
असल में, यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास में हुए एक शोध की माने तो बेक्रअप के चलते ना सिर्फ सामान्य सिर दर्द बल्कि मांसपेशियों में भी दर्द और सूजन की समस्या आ सकती है। इस शोध में ये सामने आया है कि ब्रेकअप के चलते कई बार लोगों का चलना फिरना भी दूभर हो गया है। असल में इस शोध में ये देखा गया है कि 23% तलाक़शुदा लोगों को कुछ दिन तक चलने में परेशानी हो रही थी और साथ ही कुछ लोगों को मांसपेशियों में दर्द की समस्या हो रही थी।
आंखों में सूजन
ये समस्या भी आमतौर पर लोगों को बेक्रअप के तुरंत बाद पेश आती है, क्योंकि ब्रेकअप के चलते लोग दुखी होकर रात-रात तक जगते हैं और रोते हैं तो आंखो में सूजना आना तो लाजमी है। साथ ही शोध कहते हैं कि भावनात्मक रूप से जब दुखी होने के चलते आप रोते हैं तो इससे निकलने वाले आँसुओं में नमक की मात्रा बहुत कम होती है, अपेक्षाकृत कि जब आप बाहरी चोट या किसी और वजह से रोते हैं। ऐसे में इसके कारण आपके आंखो में सूजन अधिक होता हैय़
नींद की समस्या
ब्रेकअप के कारण बहुत सारे लोगों को नींद की समस्या भी होती है, क्योंकि मानसिक तनाव के चलते इसका असर सीधे तौर पर आपके दिमाग पर पड़ता है। ऐसे में नींद ना आने की समस्या अधिकांश लोगों को हो जाती हैं।
पेट की समस्या
जी हां, ब्रेकअप के चलते पेट की समस्याएं भी हो सकती हैं। असल में, जब ब्रेकअप के चलते मांसपेशियों में दर्द होता है, तो इसके कारण बॉडी में मौजूद कार्टिसोल हार्मोन का सप्लाई पाचन संबंधी अंगों की तऱफ़ डायवर्ट हो जाती है और जब कार्टिसोल की सप्लाई पाचन अंगों की तरफ़ काफी अधिक होने लगती है, तो इसके चलते ज्यादा या कम भूख की समस्या, डायरिया और पेट में मरोड़ जैसी समस्याएं होने लगती है।
मोटापे की समस्या
वहीं कुछ लोगों में ब्रेकअप के बाद मोटापे की समस्या भी देखने को मिलती है, क्योंकि जब आप तनाव में होते हैं, तो बॉडी के सेल्स इंसुलिन के प्रति बेहद कम संवेदनशील होने जाते हैं। ऐसे में बॉडी इसकी भरपाई करने के लिए अधिक इंसुलिन का उत्पादन करने लगता है। ऐसे में बॉडी में में शुगर फैट काफी इकठ्ठा हो जाता है, जिससे धीरे-धीरे वज़न बढ़ने लगता है।
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.