Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
उत्तरी सीरिया में कुर्द विद्रोहियों के खिलाफ तुर्की की कार्रवाई के चलते कम से कम 1,30,000 लोग विस्थापित हुए हैं। संयुक्त राष्ट्र ने रविवार को एक बयान में इस बात की जानकारी दी।
एफे न्यूज ने मानवीय मामलों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (यूएनओसीएचए) के हवाले से कहा कि कुछ लोगों ने दूसरी जगहों पर अपने रिश्तेदारों के यहां शरण ले ली है। वहीं, अन्य लोगों ने दक्षिण क्षेत्र में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकी संगठन के इलाके ताल अम्र, हसकाह और रक्का जैसे शहरों में सामूहिक आश्रय लेने के लिए यात्रा की।
बयान में कहा गया है कि आने वाले दिनों में 4,00,000 से अधिक लोगों को मानवीय सहायता और सुरक्षा की आवश्यकता हो सकती है। साथ ही चेताते हुए बताया कि शुक्रवार से रास अल-आइन और ताल अबयद के अस्पताल बंद कर दिए गए हैं।
इस बीच, अमेरिकी समर्थित और इस्लामिक स्टेट से लड़ने वाले कुर्द विद्रोहियों के ग्रुप पीपल प्रोटेक्शन यूनिट (वाईपीजी) के खिलाफ तुर्की की सेना ने ऑपरेशन तेज कर दिए हैं।तुर्की की मीडिया ने रविवार को कहा कि 'ऑपरेशन पीस स्प्रिंग' विशेष रूप से सीमावर्ती शहर रास अल-आइन के आसपास तेज कर दिया गया है।
इसके जवाब में पीपल प्रोटेक्शन यूनिट (वाईपीजी) ने तुर्की के इलाके में 300 प्रोजेक्टाइल्स दागे, जिसमें 17 नागरिकों की मौत हो गई। बुधवार से शुरू हुए इस ऑपरेशन में अब तक तुर्की के चार सैनिक मारे गए हैं।
आईएएनएसऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.