Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
जन अधिकार पार्टी के प्रमुख राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने यहां शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर सेना के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने पिछले घटनाक्रम पर पराक्रमी सैनिकों का आभार जताया। पटना में एक प्रेस वार्ता में पप्पू यादव ने विंग कमांडर अभिनंदन का अभिनंदन किया और देश के पराक्रमी सैनिकों का आभार प्रकट किया। पिछले घटनाक्रमों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि एक ओर जहां पाकिस्तान की संसद में वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान विपक्षी दलों का सम्मान कर उनकी बात सुन रहे थे, उसी वक्त हमारे देश के प्रधानमंत्री देशभर में घूम-घूमकर विपक्ष को गाली देने में व्यस्त थे।
पप्पू यादव ने सवालिया लहजे में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए देश की जीत जरूरी है या चुनाव? आज देश को मजबूत करने की ज्यादा जरूरत है या भाजपा का 'बूथ' जीतना। यादव ने कहा कि "हमें भारतीय सैनिकों पर गर्व है। हमारे देश की सेना दुनिया में सबसे ज्यादा मजबूत है।"
उन्होंने कहा, "सैनिक देश के निर्माण और मानवता को बचाने के लिए है, राजनीतिकरण के लिए नहीं। कारगिल की लड़ाई के समय पर भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने सेना पर राजनीति नहीं की थी, बल्कि सेना का मनोबल बढ़ाया था।"
उन्होंने आतंकवादी अजहर मसूद को मारने की चुनौती देते हुए कहा कि अमेरिका और इजराइल ने भी आंतकवादियों को मारा, लेकिन उस पर राजनीति नहीं की। एक प्रश्न के उत्तर में पप्पू ने स्पष्ट करते हुए कहा कि "लोकसभा चुनाव में हम कांग्रेस के साथ गठबंधन करना चाहते हैं।"
इस संवाददाता सम्मेलन में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री अखलाक अहमद ने कहा कि वर्तमान राजनीतिक परिस्थिति में जन अधिकार पार्टी किसी पार्टी में विलय नहीं करने वाली है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि पार्टी मधेपुरा लोकसभा सीट से किसी भी हालत में चुनाव लड़ेगी और उम्मीदवार पप्पू यादव ही होंगे।
आईएएनएसऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें     Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से   
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.