Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि आतंकवाद जब फलता-फूलता है तो कोई भी सुरक्षित नहीं रहता, चाहे वह किसी भी जाति या पंथ का हो। मुजफ्फरपुर के पताही हवाई अड्डा मैदान में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रत्याशी के पक्ष में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, "आतंक और हिंसा फैलाने वाली फैक्ट्री जहां भी होगी, वह इस चौकीदार के निशाने पर है। भारत को जहां से भी खतरा होगा, हम घर में घुसकर मारेंगे, यह तय है।"मोदी ने कहा कि महामिलावट वालों का इतिहास ऐसा है कि ये आतंकवाद पर कुछ नहीं कह सकते, पाकिस्तान का नाम सुनकर इनके पैर कांपते हैं, इनकी सरकार डोलने लगती है। यही कारण है कि 'एयर स्ट्राइक' और 'सर्जिकल' स्ट्राइक से इनको एलर्जी है।
प्रधानमंत्री ने केंद्र सरकार द्वारा किए गए कायरें की चर्चा करते हुए कहा, "हमने देश को लालबत्ती की संस्कृति से निकाला है और गांव-गांव, गरीब-गरीब को एलईडी बल्ब की दूधिया रोशनी दी है। हमने उस गरीब को पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज देने का काम किया है जिसको इलाज के लिए अपना घर-बार बेचना पड़ता था।"मोदी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा, "बिहार की महान भूमि की पहचान बदलने वाले आज फिर से इस चुनाव में गिद्घदृष्टि लगाए हुए हैं।"
उन्होंने महागठबंधन को 'महामिलावटी' बताते हुए कहा कि इनकी मंशा केंद्र में एक कमजोर सरकार बनाना है, जिनसे इनकी मनमर्जी चल सके। उन्होंने कहा कि महागठबंधन की ताकत बढ़ाने का मतलब है बिहार को फिर से पीछे ले जाना।उन्होंने कहा, "नीतीश जी, पासवान जी, सुशील जी, सभी के प्रयत्नों से बिहार ने पुराने दौर को पीछे छोड़ा है। राजग की जीत के लिए लोग बेताब हैं। बिहार के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है, उनकी ताकत बढ़ाने का मतलब - लूटपाट के दिन वापस लाना, उनकी ताकत बढ़ाने का मतलब - भ्रष्टाचार, हत्या, अपहरण, गुंडागर्दी, घोटाले की वापसी है।"
मोदी ने भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ लगातार अभियान चलाने की बात करते हुए कहा, "जो जेल में हैं, जेल के दरवाजे पर हैं, जो बेल पर हैं, वे सब केंद्र में एक मजबूत सरकार को बर्दाश्त नहीं करना चाहते, परंतु हमारा अभियान रुक नहीं सकता। उन्हें हर काम का हिसाब देना होगा, लूटे गए गरीबों का एक-एक पैसा लौटाना होगा।"मुजफ्फरपुर को आम और लीची की मिठास वाला शहर बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आम और लीची जैसे मिठास घोलने वाले 'स्वीट सिटी' में आज इतनी बड़ी संख्या में लोग हमें आशीर्वाद देने आए हैं, यह कई लोगों के मुंह में कड़वाहट पैदा करने वाली है।
आईएएनएस
रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.