Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
साल 2019 में आस्ट्रेलिया पांच मैचों की वनडे सीरीज के लिए भारत आई थी। तब वह बुरे दौर से गुजर रही थी और किसी को उम्मीद नहीं थी कि वह भारत को उसके घर में हरा सकती है। शुरुआती दो मैचों में मिली हार ने भी इस बात की तस्दीक कर दी थी। लेकिन एरॉन फिंच की कप्तानी वाली आस्ट्रेलिया ने अगले लगातार तीन मैच जीत 3-2 से सीरीज हथियाई। अब एक बार फिर उसकी नजरें मंगलवार से शुरू हो रही तीन मैचों की सीरीज में भारत के खिलाफ इसी कहानी को दोहराने पर है। तीन मैचों की वनडे सीरीजा का पहला मैच मंगलवार को वानखड़े स्टेडियम में खेला जाएगा।भारत को उस हार की टीस तो होगी और इसी कारण वह इस बार हिसाब बराबर करना चाहेगी। घर में भारत यह करने में सक्षम है, इसमें कोई शक नहीं है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम को इस बार पहले से मजबूत आस्ट्रेलियाई टीम का सामना करना है।
आस्ट्रेलिया 2019 में जब भारत आई थी तो उसका आत्मविश्वास हिला हुआ था। भारत ने उसको उसके घर में हराया था। स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर जैसे उसके दो दिग्गज बल्लेबाज बॉल टेम्परिंग के कारण लगे प्रतिबंध के चलते टीम से बाहर थे।इस बार जो आस्ट्रेलियाई टीम आई है, वह आत्मविश्वास से भी भरपूर है और इस टीम में स्मिथ तथा वार्नर भी हैं। साथ ही पुरानी टीम के वे सदस्य भी हैं जो भारत को हराकर गए थे और एक बात यह भी है कि वे सभी अब पहले से ज्यादा अनुभवी और काबिल हो गए हैं।आस्ट्रेलिया ने घर में न्यूजीलैंड और पाकिस्तान का सूपड़ा साफ किया। उससे पहले इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में वह सेमीफाइनल तक पहुंची। इन सभी से उसको आत्मविश्वास मिला है। इस दौरान गौर करने वाली यह भी है कि आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड में एशेज भी सफलतापूर्वक अपने पास रखी जिसमें स्मिथ का बल्ला जमकर बोला। वार्नर भी पीछे नहीं रहे। घर में वह लगाातर रन उगलते रहे।
मार्नस लाबुशैन के तौर पर पांच बार की विश्व विजेता को एक और बेहतरीन खिलाड़ी मिला। वनडे में वह पहली बार आए हैं और यह देखना दिलचल्प होगा कि क्या फिंच उन्हें वनडे पदार्पण का मौका देते हैं या नहीं और अगर यह बल्लेबाज पदार्पण करता है तो क्या टेस्ट फॉर्म को वनडे में भी जारी रख सकेगा?भारत के लिहाज से यह विश्व कप के बाद से उसकी अभी तक की सबसे बड़ी चुनौतीपूर्ण सीरीज है। बेशक भारत घर में खेल रही है, लेकिन आस्ट्रेलिया का नाम उसे परेशान जरूर करेगा।घर में भारत ने हाल ही में बांग्लादेश, वेस्टइंडीज और श्रीलंका को हराया है। इन सभी के मुकाबले आस्ट्रेलिया ज्यादा मजबूत है।
टीमें (संभावित) :-भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, शिखर धवन, शिवम दुबे, श्रेयस अय्यर, रवींद्र जडेजा, केदार जाधव, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, मनीष पांडे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), लोकेश राहुल, नवदीप सैनी, शार्दूल ठाकुर।आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी, पैट कमिंस, एश्टन अगर, पीटर हैंड्सकॉम्ब, जोश हेजलवुड, मार्नस लाबुशैन, केन रिचर्डसन, डी आर्की शॉर्ट, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, एश्टन टर्नर, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।
आईएएनएसऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से 
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 1
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.